Tuesday, December 7, 2021

मुंबई पुलिस तब्लीगी जमात के 20 विदेशी सदस्यों के खिलाफ केस लेगी वापस

- Advertisement -

पिछले महीने बॉम्बे हाई कोर्ट की औरंगाबाद पीठ द्वारा तब्लीगी जमात के सदस्यों पर कोरोना के फर्जी मुकदमे दर्ज करने को लेकर लगाई गई फटकार के बाद मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने अंधेरी में  तब्लीगी जमात (Tablighi Jamaat) से जुड़े एक मामले में 20 विदेशी नागरिकों (Foreigners) के खिलाफ दर्ज हत्या और हत्या की कोशिश का केस वापस लेने का फैसला किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों को दोषी साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं है।

न्यूज़ 18 के अनुसार,  डीएन नगर पुलिस स्टेशन में 10 इंडोनेशियाई और किर्गिस्तान के 10 नागरिकों के खिलाफ अप्रैल में दो मामले दर्ज किए गए थे। इन दोनों मामलों के खिलाफ 20 विदेशी नागरिकों ने डिंडोशी के सेशन कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। हालांकि अतिरिक्त प्रमुख न्यायाधीश ने विदेशी नागरिकों की याचिका खारिज कर दी थी। उन्होंने कहा था कि उनके मामलों की सुनवाई किसी अन्य अदालत में की जाए। इसके साथ ही उन्होंने इस मामले की सुनवाई एक महीने के अंदर पूरी करने का आदेश दिया था।

मामले की सुनवाई के दौरान प्रधान न्यायाधीश एसएस सावंत ने कहा, लॉकडाउन के कारण ये 20 विदेशी भारत में रुके हुए हैं. ऐसे में इस मामले की सुनवाई जल्द से जल्द पूरी की जानी चाहिए। विदेशी नागरिकों की ओर से पेश वकील अमीन सोलकर ने कहा कि भारत में जिन विदेशियों पर मामला दर्ज किया गया है, वह अपनी प​त्नियों के साथ भारत घूमने आए थे। ये सभी विदेशी अपने पीछे परिवार को छोड़कर यहां आए हैं और कोरोना में फंसे हुए हैं।

उन्होंने कहा कि यदि उनके मामलों पर तत्काल आधार पर फैसला नहीं किया जाता है, तो उन्हें भविष्य में कई तरह की कठिनाई का सामना करना पड़ेगा। मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा इस मामले का एक महीने के भीतर फैसला किया जाना चाहिए।

पुलिस द्वारा दायर किए गए अपने जवाब में यह प्रस्तुत किया गया कि उनके खिलाफ दर्ज हत्या और हत्या के प्रयास के मामलों को हटा दिया जाएगा, लेकिन उन पर लॉकडाउन और वीजा नियमों का कथित उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया जाएगा।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles