llop

llop

मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर दीनदयाल उपाध्याय के नाम कर देने को लेकर धमकी भरा पोस्टर जारी किया गया है. जिसमें ‘6 इंच छोटा’ कर देने की धमकी दी गई है.

ये पोस्टर पुरे शहर में लगे हुआ है. जिसके चलते प्रशासन में हडकंप मच गया. ध्यान रहे मुगलसराय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के जिले में आता है. हालांकि पुलिस ने मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है. पुलिस ने पोस्टर को उखाड़कर फेंकने के साथ ही अज्ञात के खिलाफ धारा 504 व 506 में मुकदमा दर्ज किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पोस्टर में नाम बदलने में जुटे 13 लोगों के लिए ख़ास तौर पर नामों के साथ धमकी जारी की गई है. इस पुरे मामले में स्थानीय सांसद डॉक्टर महेंद्र नाथ पाण्डेय ने बड़ी भूमिका निभाई है. जिसके चलते ये प्रक्रिया जल्द ही पूरी होने वाली है.

ध्यान रहे स्टेशन का नाम आरएसएस विचारक दीनदयाल के नाम पर रखा गया है. इसके पीछे वजह यह है की 1968 में दीनदयाल उपाध्याय का शव संदिग्ध हालत में मुगलसराय रेलवे स्टेशन पर ही मिला था. हालांकि कांग्रेस इस का नाम पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के नाम पर चाहती थी. दरअसल मुगलसराय लाल बहादुर शास्त्री की जन्म स्थली है.

हालांकि इस शहर को अब पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम देने की कवायद प्रारंभ हो गयी. इस सम्बन्ध में शासनादेश सम्बंधित कार्यालयों को प्रमुख सचिव द्वारा प्रेषित प्राप्त हो गए हैं, जिस आधार पर तमाम कार्यालयों के नाम पर मुग़लसराय के नाम को मिटा कर दीनदयाल नगर रखे जा रहे है.

Loading...