रामपुर: MSO ने वतन के शहीदों को किया याद, मदरसों के छात्र हुए शामिल

11:35 am Published by:-Hindi News

रामपुर: देश के सबसे बड़े मुस्लिम छात्र संगठन ‘मुस्लिम स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (MSO)’ की रामपुर यूनिट की और से स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश की आजादी के परवानों की याद में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया।

शनिवार को मदरसा नुरुल उलूम अजीतपुर में ये कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत तिलावत ए कुरान से हुई। जिसके बाद मदरसों के बच्चों ने तराना ए हिन्द पेश किया। कार्यक्रम के आगे बढ्ने के साथ आजादी की लड़ाई में मुस्लिम रहनुमाओं के किरदार पर रोशनी डाली गई।

इस दौरान मौलवी फाहीम अहमद साहब कादरी ने हिंदूस्तान की आजादी और फजीलत को बयान किया। उन्होने बताया कि आजादी अल्लाह की और से दी हुई नेमत है। हमें इसकी कद्र करनी चाहिए।

वहीं एमएसओ जिला अध्यक्ष मो. आरिफ़ बरकाती ने शहीद अशफाक उल्लाह खान और मुफ़्ती इनायतउल्लाह काकोरवी की शहादत को याद करते हुए आज कुछ लोग देश के इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने में लगे हुए है। जबकि मुस्लिम कौम ने देश की आजादी के लिए आगे बढ़कर अपनी जान की कुर्बानी दी।

उन्होने कहा, हमारा मजहब हमे वतन से मुहब्बत का दर्स देता है। उन्होने कहा, हमे आजादी की अहमियत को समझते हुए मिल जुलकर एकसाथ रहना चाहिए। आखिर में मदरसे के बच्चों को इनाम दिये गए। इस मौके पर हाजी मेहंदी हसन, इशरत अली, हाजी मुजाहिद अली, तंजिम मियां शेरी, अब्दुल सुबहान कुरेशी आदि मौजूद रहे।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें