mso

मुस्लिम स्टूडेंट्स आर्गनाइज़ेशन ऑफ़ इंडिया की संभल यूनिट ने उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी द्वारा मुस्लिमों को आरक्षण दिए जाने का वादा एक बार फिर से अखिलेश सरकार को याद दिलाया.

जिला अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य वसीम अख़्तर बरकाती ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमनत्री अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को ज्ञापन भेजकर 2012 के विधान सभा चुनाव प्रचार के दौरान मुसलमानो को 18 प्रतिशत आरक्षण देने के वादे की याद दिलाते हुए अपना वादा पूरा करने की माँग की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

mso

वसीम अख़्तर बरकाती ने सच्चर और मिश्र कमेटी का हवाला देते हुए कहा कि, हिन्दुस्तान मैं मुसलमानो की हालत दलित और आदिवासीयो से भी ज़यादा बदतर है. साथ ही मुसलमान आर्थिक, सामाजिक, और शैक्षिक रूप से अति पिछड़ा हुआ है. नोकरशाही में भी मुसलमानो की भागीदारी बहुत कम है. ऐसे में मुसलमानों को आरक्षण की सख्त जरूरत हैं.

उन्होने मुख्यमंत्री और सपा मुखिया को प्रदेश को संबोधित करते हुए कहा कि मुसलमानो ने हमेशा की तरह समाजवादी पार्टी को पूरा समर्थन देते हुए प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने में बहुत ही अहम भूमिका निभाई. ऐसे में सपा सरकार को मुसलमानों को 18 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने का वादा पूरा किया जाना चाहिए.

बरकाती ने विधानसभा के आख़िरी सत्र में केबिनेट द्वारा 17 अति पिछड़ी जातियो को अनुसूचित जाति का दर्ज़ा देने और अनुसूचित जाति के तहत लाभ देने का हवाला देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार को मुसलामानों को भी आरक्षण देना चाहिए.

Loading...