yogi adityanath l pti

उत्तर के प्रदेश के कैराना में हुए लोकसभा सीट के उपचुनाव के बाद से बिजली में बेतहाशा कटौती की जा रही है। स्थानीय लोगों को 24 घंटे में से तकरीबन 12 घंटे ही बिजली मिल रही है।

लोगों का कहना है कि पिछली 31 मई को आए चुनाव परिणाम के बाद से बिजली की कटौती की जा रही है। लोगों का कहना है कि मई में हुए लोकसभा के उपचुनाव से पहले इलाके में करीब 20 घंटे बिजली आया करती थी लेकिन बीजेपी उम्मीदवार के हारने के बाद से बिजली रहने का समय घटकर 12 घंटे हो गया है।

व्यापारियों का कहना है कि बिजली कम आने की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं पावर कट की वजह से चिलचिलाती गर्मी में सबसे अधिक परेशानी छोटे बच्चों को हो रही है। एक घंटे में औसतन 3 बार कट लग रहा है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

tabassum1 620x400

बता दें कि कैराना में भारतीय जनता पार्टी के सांसद हुकुम सिंह की मृत्यु के बाद  खाली हुई लोकसभा सीट पर 28 मई को उपचुनाव हुए थे। जिसमे बीजेपी की और से सांसद हुकुम सिंह के बेटी मृगांका सिंह को कड़ी हार मिली थी।

इस सीट पर राष्ट्रीय लोक दल की उम्मीदवार तबस्सुम हसन ने हासिल की थी। तबस्सुम हसन को समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, आम आदमी पार्टी और वामदलों ने समर्थन दिया था।