Sunday, September 19, 2021

 

 

 

मिजोरम: गणतंत्र दिवस पर दिखा सिटिजनशिप बिल का विरोध, राज्यपाल खाली मैदान में देते रहे भाषण

- Advertisement -
- Advertisement -

आइजल. 70वें गणतंत्र दिवस के मौके पर मिजोरम के राज्यपाल कुम्मानम राजशेखरन के संबोधन में हर साल से कुछ अलग नजारा देखने को मिला। समारोह के दौरान मैदान लगभग खाली था। संबोधन के वक्त कोई आम नागरिक मौजूद नहीं था। यहां सिर्फ राज्य के मंत्री, कुछ विधायक और आला अधिकारी ही बैठे हुए थे।

बताया जा रहा है कि मिजोरम सिटिजनशिप बिल में संशोधन के विरोध में गणतंत्र दिवस समारोह का बायकॉट किया गया है। मिजोरम में सिटिजनशिप बिल में संशोधन के विरोध में एनजीओ कॉर्डिनेशन कमेटी ने गणतंत्र दिवस के राज्य स्तरीय बायकॉट का ऐलान किया है। मिजोरम के सामाजिक संगठन और छात्र संगठन इस कमेटी में शामिल बताए जा रहें हैं।

राज्यपाल राजशेखरन ने अपने भाषण में कहा, ‘मिजोरम की सीमाओं की सुरक्षा की लिए कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। सरकार जनता के कल्याण और विकास के लिए योजनाओं पर काम कर रही है। राज्य के लोगों की पहचान, संस्कृति और मूल्यों को बढ़ाने के लिए गांव-गांव में सिटीजन रजिस्ट्रेशन कराया गया। सरकार नागरिकों में भाईचारे की भावना को बढ़ा रही है।’

शराबबंदी की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार अपने चुनावी घोषणा पत्र में किए मिजोरम शराब (रोकथाम और नियंत्रण) अधिनियम, 2014 को खत्म करने के लिए कदम उठाने की तैयारी में है। यह जनवरी, 2015 से राज्य में लागू है।

मिजोरम में पुलिस अधिकारियों के अनुसार, गणतंत्र दिवस की वार्षिक परेड में इस बार 6 सैन्य टुकड़ियां शामिल हुईं। राज्य के दूसरे जिला मुख्यालयों में भी ध्वजारोहण किया गया। उन्होंने बताया कि इस दौरान कुछ जगहों पर विरोध में तख्ती और बैनर लेकर लोगों के खड़े होने की खबर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles