Coutesy: Etv
Coutesy: Etv

नीतीश कैबिनेट में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री अब्दुल गफ़ूर ने कहा कि ग़रीबी और शिक्षा के अभाव में मुस्लिम समुदाय में जन्म दर ज्यादा हैं. ऐसे में अगर ग़रीबी ख़त्म कर दी जाए तो ये जन्म दर कम हो जायेंगी.

सोमवार को एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे मंत्री ने जनसंख्या और मुसलमानों की फैमिली प्लानिंग के संदर्भ में कहा कि  ग़रीबी और शिक्षा के अभाव से ही गरीब मुसलमान ज़्यादा बच्चे पैदा कर रहे हैं ऐसे में अगर ग़रीबी ख़त्म कर दी जाए तो बेशक मुसलमानों के घर भी बच्चे कम पैदा होने लगेंगे.

उन्होंने कहा कि अगर इस बारें में सर्वे किया जाए तो आप पायेंगे कि खुशहाल और अमीर मुसलमानों के घर में केवल क से दो या बमुश्किल तीन ही बच्चे मिलेंगे लेकिन गरीब मुसलमानों के इलाके में जाते ही संख्या बढ़ जायेगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

फैमिली प्लानिंग को लेकर उन्होंने कहा कि जो पढ़े लिखे लोग हैं चाहे वो किसी भी धर्म में हों इस बात को समझते हैं. लेकिन गरीब तबका अब भी ये समझता है कि ऑपरेशन से कमजोरी होती है और दूसरा उन्हें ऑपरेशन कराने की फुर्सत नहीं होती इस कारण वो इन सब चीजों से दूर भागते हैं.

Loading...