Sunday, August 1, 2021

 

 

 

गुजरात: कोरोना के शक में प्रवासी मजदूर को पीटा, तोड़ डाले हाथ-पैर

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना संकट के बीच गुजरात के सूरत में एक प्रवासी मजदूर की बेदर्दी से पिटाई करने का मामला सामने आया है। कोरोना पॉजिटिव होने के शक में स्थानीय लोगों ने पीट दिया। इस पिटाई में पीड़ित के हाथ पैर टूट गए हैं। पीड़ित की पहचान संजय शर्मा (24 वर्ष) के रूप में हुई है।

जनसत्ता के मुताबिक  स्थानीय लोग युवक के उनके इलाके में कमरा किराए पर लेने से नाराज थे और उसे कमरा खाली करने को कह रहे थे। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है और आरोपियों की तलाश में जुटी है।

असम के गुवाहाटी के रहने वाला युवक संजय शर्मा (24 वर्ष) कुछ साल पहले काम के सिलसिले में सूरत आया था। यहां वह एक कैटरिंग फर्म में काम कर रहा था लेकिन बीते तीन माह से वह बेरोजगार था। बेरोजगारी के कारण शर्मा अपने पंदेसारा इलाके में स्थित मकान का किराया नहीं चुका पा रहा था। जिसके चलते उसने अपना मकान खाली कर दिया।

बीते चार दिन पहले ही संजय पटेलनगर के उढना इलाके में अपने दोस्तों के साथ एक किराए के मकान में शिफ्ट हो गया था। जिस पर स्थानीय लोगों ने आपत्ति दर्ज की और संजय को मकान खाली करने को कहा। लोगों का कहना था कि संजय कोरोना पॉजिटिव हो सकता है।

शुक्रवार की रात तीन स्थानीय युवकों ने संजय को कमरा खाली करने को कहा। इस पर बहस हो गई। इसके बाद तीनों युवकों ने लाठी डंडों से संजय को पीट दिया। संजय के दोस्तों ने उसे बचाने की कोशिश की। इसके बाद तीनों आरोपी घर खाली करने की धमकी देकर वहां से फरार हो गए।

संजय के दोस्त उसे लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां पता चला कि पिटाई के कारण संजय का हाथ और पैर में फ्रैक्चर हुआ है। संजय के दोस्तों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और आरोपियों की तलाश कर रही है।

पुलिस का कहना है कि संजय पंदेसारा इलाके में रह रहा था, जहां कोरोना के कई मामले सामने आ चुके थे। यही वजह थी कि स्थानीय लोग इस बात से डरे हुए थे और उन्होंने संजय को मकान खाली करने को कहा। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles