niti

niti

नव वर्ष के मौके पर पर बीजेपी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है. नितिन पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज समर्थकों ने 1 जनवरी को मेहसाना बंद करने का आह्वान किया है.

ये आह्वान सरदार पटेल समूह के संयोजक लालजी पटेल ने उप-मुख्यमंत्री व उनके दर्जनों समर्थकों के साथ गांधीनगर के अपने सरकारी आवास पर मुलाकात कर किया है. लालजी पटेल ने कहा कि बीजेपी बार-बार नितिन भाई पटेल के साथ अन्याय कर रही है. मैंने उनसे और मेहसाना से उनके समर्थकों से मुलाकात की है और हमने उनके समर्थन में एक जनवरी को मेहसाना बंद रखने का आह्वान किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नितिन पटेल मेहसाना से विधायक हैं, जहां पाटीदारों की संख्या काफी है और यह जगह कोटा आंदोलन के केंद्र में भी रही. लालजी पटेल ने कहा है कि अगर नितिन पटेल को गुजरात का सीएम नहीं बनाया जाता है तो पूरा गुजरात बंद कराया जाएगा.

उन्होंने कहा, गुजरात की जनता चाहती है कि नितिन पटेल मुख्यमंत्री बनें. पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल ने भी जब इस्तीफा दिया था तब वह चाहती थीं कि नितिन पटेल मुख्यमंत्री बनें. इसके बाद भी उन्हें (नितिन पटेल) मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया, फिर भी उन्होंने उप-मुख्यमंत्री का पद स्वीकार किया और उप-मुख्यमंत्री के तौर पर काम करने का फैसला लिया. लेकिन अब जो हो रहा है उससे लोगों में नाराजगी है. मुख्यमंत्री पद के लिए नितिन भाई पटेल सबसे सही शख्स हैं.

ध्यान रहे इसी बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने उन्हें कांग्रेस में आने का ऑफर दिया है. हार्दिक पटेल ने कहा है कि अगर नितिन पटेल का बीजेपी में सम्मान नहीं हो रहा है तो उन्हें तुरंत बीजेपी छोड़कर कांग्रेस ज्वॉइन कर लेनी चाहिए.

हार्दिक ने कहा, ‘अगर नितिन पटेल 10 विधायकों के साथ बीजेपी छोड़ने के लिए तैयार हैं तो मैं कांग्रेस से उनके लिए बात कर सकता हूं. कांग्रेस में उन्हें बड़ा पद दिया जाएगा. अगर नितिन भाई का बीजेपी में सम्मान नहीं हो रहा है तो उन्हें तुरंत बीजेपी छोड़ देनी चाहिए.’

Loading...