कश्मीर में प्रदर्शनकारियों में गुस्सा अब भी बरकरार हैं. इस गुस्सें का सामना शनिवार को राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती को भी करना पड़ा.

मुख्यमंत्री 10 जुलाई को पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प में 21 साल के मसहूक अहमद शेख की मौत के बाद उसके परिवार से मिलने के लिए साउथ कश्मीर के काजीगुंड पहुंची थीं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के आने की जानकारी मिलते ही प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर आएं. जिसके चलते मुख्यमंत्री को गांव छोड़कर बाहर निकलना पड़ा.  प्रदर्शनकारियों ने उनके काफिले पर पथराव भी किया साथ ही कश्मीर की आज़ादी के नारें भी लगाये.

ऐसा पहली बार हुआ हैं जब राज्य के मुख्यमंत्री को विरोध के कारण वापस लौटना पड़ा हैं. इससे पहले उत्तर और दक्षिण कश्मीर की यात्राओं में मुफ्ती ने पीड़ित परिवार को सरकारी रेस्ट हाउस में बुलाकर मुलााकात की थी.