जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी को स्पष्ट रूप से चेतावनी देते हुए कहा कि राज्य को विशेष दर्जा प्रदान करने वाले अनुच्छेद 370 के साथ छेड़छाड़ की गई तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यह कोशिश राष्ट्र विरोधी होगी.

उन्होंने आगे कहा कि जम्मू-कश्मीर ने हिंदुस्तान से इसी की वजह से जुड़ा था. अगर इसे किसी प्रकार का नुक्सान पहुँचता हैं तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. इस दौरान उन्होंने कहा, मारी कश्मीरियत और सूफी संस्कृति को किसी की नजर न लगे. आज साजिश के तहत रियासत और उसकी संस्कृति को नुकसान पहुंचाने की कोशिशें हो रही हैं.

इसी के साथ उन्होंने कहा विपक्ष के नेता उमर अब्दुल्ला भी अनुच्छेद 370 हटाने की कोशिशों पर अपनी चिंता जता रहे हैं. वह उमर की इस चिंता का सम्मान करती हैं. उन्होंने आश्वासन दिया कि वे किसी भी हालत में अनुच्छेद 370 को नुकसान नहीं पहुँचने देगी.

याद रहें कि नेशनल कान्फ्रेंस प्रमुख उमर अब्दुल्ला ने शनिवार को कहा था कि भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) अनुच्छेद 370 रद्द करने के लिए न्यायपालिका का इस्तेमाल कर सकती है, क्योंकि वह समझ चुकी है कि वे उसे रद्द करने के लिए विधायिका का रास्ता नहीं अपना सकते.

उन्होंने कहा था कि जब बीजेपी के लोग (अनुच्छेद 370 रद्द करने के लिए) विधायिका के रास्ते ऐसा नहीं कर सकते, तो कोर्ट का इस्तेमाल कर सकते हैं


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें