उत्तर भारत में गाय को गौमाता का दर्जा देने वाली बीजेपी ने मेघालय में गौहत्या पर प्रतिबंध से साफ़ इनकार कर दिया है. भाजपा ने कहा कि अगर पार्टी राज्य में सरकार बनाती है तो बीफ बैन नहीं किया जाएगा.

मेघालय भाजपा के उपाध्यक्ष जेए लिंगदोह ने कहा कि केंद्र ने इस बारे में जो अधिसूचना जारी की थी वो केवल एनिमल मार्केट को रेगुलेट करने के लिए है. उन्होंने कहा कि  केंद्र की अधिसूचना में कहीं भी जानवरों की हत्या पर पाबंदी नहीं लगाई गई है..

उन्होंने बयान जारी कर कहा कि पार्टी ने ‘स्पष्ट कर दिया है कि पूर्वोत्तर राज्यों में इसे (गोमांस प्रतिबंध ) लागू नहीं किया जाएगा. पशुधन राज्य का मामला है. इस पर राज्यों को निर्णय करना है.’ उन्होंने कहा कि राज्य में गोमांस प्रतिबंध लागू नहीं होगा. उन्होंने कहा कि गोमांस पर प्रतिबंध लगाना न तो अच्छी आर्थिक पहल है न ही संविधान सम्मत है.

लिंगदोह के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र सरकार को भारत से बाहर जानवरों के स्मगलिंग पर रोक लगाने के लिए दिशा निर्देश बनाने को कहा है. उन्होंने कहा कि इस बारे में केन्द्र की ओर से जारी अधिसूचना का मकसद जानवरों के खरीद बिक्री बाजार को नियंत्रित करना है.

भाजपा का ये स्पष्टीकरण राज्य में कांग्रेस के उस दावे के बाद आया है कि केंद्र ने जानवरों के वध पर प्रतिबंध लगा दिया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?