Saturday, July 24, 2021

 

 

 

कोरोना: उज्जैन में मेडिकल टीम से बदसलूकी, दी गालियां और जानकारी देने से किया मना

- Advertisement -
- Advertisement -

कोरोना वायरस के खिलाफ देश के डॉक्टर और स्वास्थ्य क्षेत्र से जुटे कर्मचारियो को कुछ लोगों की अभद्रता का सामना करना पड़ रहा है। ताजा मामला मध्य प्रदेश के उज्जैन से सामने आया है जहां मेडिकल सर्वे के लिए गए स्वास्थ्यकर्मियों के साथ स्थानीय लोगों ने बदसलूकी की है।

स्वास्थ्यकर्मियों का कहना है कि स्थानीय निवासियों ने अपने बारे में जानकारी देने से इनकार कर दिया। इन लोगों ने हमे गालियां देनी शुरू कर दिया और धमकी देने लगे। उन्होने बताया कि बिलोतीपुरा इलाके में जब स्वास्थ्य विभाग की टीम सर्वे करने के लिए पहुंची तो स्थानीय लोग उनपर बिफर गए और उनकी सहायता करने की बजाय उनसे गाली-गलौज करने लगे। मेडिकल टीम को वहां के लोगों ने किसी भी प्रकार की जानकारी देने से साफ इनकार कर दिया।

इसके अलावा गुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat) सिविल अस्पताल में काम कर रही एक महिला डॉक्टर को उसके पड़ोसियों द्वारा शारीरिक रूप से प्रताड़ित किए जाने का मामला सामने आया है। महिला डॉक्टर ने अपने साथ हुए उत्पीड़न पर दो वीडियो बनाए और उन्हें सोशल मीडिया पर डाल दिया। एक वीडियो में चेतन मेहता डॉक्टर को गालियां देते हुए और गुस्से में दरवाजे को पीटता हुआ नजर आ रहा है।

दूसरे वीडियो में डॉक्टर ने कहा कि उस पर कोरोना वायरस को लेकर गाली-गलौच की गई। जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसके बाद यह मामला सामने आया है। अब इस मामले को गंभीरता से देखते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने गुजरात पुलिस को निर्देश दिया है कि वह सूरत में कोरोना मरीजों का इलाज करने वाली महिला डॉक्टर पर पड़ोसियों द्वारा हमले की जांच करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles