Monday, August 2, 2021

 

 

 

#CAA विरोध: लाखों की भीड़ में बोले मौलाना तौकिर – अब नहीं बनने देंगे दूसरा पाकिस्तान

- Advertisement -
- Advertisement -

बरेली: देश भर में शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय ने नागरिकता संशोधन आधिनियम (CAA) और प्रस्तावित कानून (NRC) का जमकर विरोध किया। इस विरोध से बरेली भी अछूता नहीं रहा। इस्लामिया ग्राउंड में लाखों की तादाद में लोगों ने शांतिपूर्वक इस बिल का विरोध किया।

इस मौके पर आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खां ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह देश को तोड़ना चाहते हैं लेकिन अब एक और पाकिस्तान नहीं बनने दिया जाएगा। अगर नागरिकता कानून वापस न लिया गया तो 15 दिन बाद जेल भरो आंदोलन शुरू किया जाएगा।

मौलाना तौकीर ने कहा कि नागरिकता कानून पूरे मुल्क के लिए तकलीफदेह है। अनुसूचित जाति वर्ग को भी यह फैसला कबूल नहीं है। मोदी और शाह मुसलमानों से इस कदर दुश्मनी पर आमादा हैं कि देश को बर्बाद कर रहे हैं और बाबा भीमराव आंबेडकर का बनाया संविधान को बदलना चाहते हैं।

बाबा साहब ने ही संविधान के जरिये सभी को बराबरी का हक दिया, आज संविधान को बदलकर फिरकापरस्ती के आधार पर कानून बनाया जा रहा है। मौलाना ने कहा कि देश देशद्रोही लोगों के कब्जे में है जिसे आजाद कराना है।

मुसलमानों को कमजोर समझकर उन पर भले ही ज्यादती की जाए, लेकिन जब तक मुसलमान बचे हैं, तभी तक देश बचा है। हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई इस देश का गुलदस्ता हैं, इन्हें कोई अलग नहीं कर सकता। उन्होंने मोदी और शाह को हिटलर बताते हुए कहा कि कानून वापस नहीं हुआ तो 15 दिन बाद जेल भरो आंदोलन छेड़ दिया जाएगा।

रेली के इतिहास में पहली बार देखने को मिला कि इस तरह के कार्यक्रम में लोग धार्मिक या राजनीतिक झंडों के बजाय तिरंगा लेकर निकले। जत्थों में शामिल लोगों की जुबां पर हिंदुस्तान जिंदाबाद और मजहबी एकता संबंधी नारे थे। इसे हर जाति वर्ग के लोगों ने सराहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles