Tuesday, January 25, 2022

मौलाना तौकीर रज़ा की चेतावनी- नागरिकता कानून वापस नही लिया तो हिंदुस्तान की गलियों में खून बहेगा

- Advertisement -

बरेली इत्तहादे मिल्लत कौंसिल (आईएमसी) के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा खां ने शुक्रवार को चेतावनी दी कि सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून वापस नहीं लिया तो हिंदुस्तान की गलियों में खून बहेगा। सिविल लाइंस की नौमहला मस्जिद में प्रदर्शन के दौरान उन्होंने मुसलमानों से एकजुट होकर इस कानून का विरोध करने की अपील की।

जुमे की नमाज के बाद शहर के कई और इलाकों में भी प्रदर्शन हुए। इस दौरान मुस्लिम बहुल इलाकों में कारोबार भी बंद रखा गया। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में बारिश के बावजूद आईएमसी, मुस्लिम मजलिस और तंजीम उलमा इस्लाम समेत कई संगठनों की अगुवाई में मुसलमान सड़कों पर उतरे। जमीयत उलमा हिंद और आल इंडिया मुस्लिम ए इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) ने भी अलग प्रदर्शन किया।

नौमहला मस्जिद गेट पर प्रदर्शन के दौरान आईएमसी अध्यक्ष तौकीर रजा ने मुसलमानों से एकजुट होकर नागरिकता कानून का लोकतांत्रिक ढंग से विरोध करने को कहा। उन्होंने कहा कि मुसलमान अदालत जाएंगे और राष्ट्रपति से भी फरियाद करेंगे फिर भी सरकार ने कानून वापस न लिया तो हिंदुस्तान की गलियों में खून बहेगा।

उन्होंने कहा कि मुसलमान अगर इज्जत के साथ बावकार जिंदगी चाहते हैं तो उन्हें कुर्बानी देने को तैयार रहना होगा। पहली गोली वह अपने सीने पर खाएंगे। प्रदर्शन के बाद यहां भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट और एसपी सिटी को ज्ञापन दिया गया।

जमीयत उलमा हिंद ने सराय खाम में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शन किया। जमीयत के जिलाध्यक्ष मुफ्ती अबु जफर नोमानी अलकासमी ने कानून को संविधान के खिलाफ बताते हुए वापस लेने की मांग की जिसके बाद जमीयत की ओर से सिटी मस्जिट्रेट और सीओ फर्स्ट को राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिया गया।

एमआईएम ने सेठ दामोदर स्वरूप पार्क में प्रदर्शन किया गया। जिलाध्यक्ष मोहम्मद असलम ने नागरिकता संशोधन कानून को संविधान के विरुद्ध बताया। प्रदर्शन के बाद सिटी मजिस्ट्रेट को राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिया।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles