imm

पश्चिम बंगाल के आसनसोल के रेल पार अंचल में बीते दिनों हुई सांप्रदायिक हिंसा मे दंगाइयों के हाथों मारे गए इमाम इमदादुल्ला रशीदी के पुत्र मो. सिबगातुल्लाह का दसवी का परिणाम आया है।

उनके बेटे को माध्यमिक 2018 परीक्षा पास करने का सर्टिफिकेट मिला है। 16 वर्षीय शिगबतुल्लाह ने 21 मार्च को अपने अतिरिक्त बायॉलजी के पेपर मे शामिल हुआ था।जिसके एक हफ्ते बाद ही 28 मार्च को उसका शव स्थानीय मस्जिद के पास मिला था।

ये वहीं मस्जिद है। जहां इमदादुल्ला रशीदी इमामत करते है। इस दौरान पुत्र की मौत के बावजूद उन्होंने अभूतपूर्व धैर्य व संयम का परिचय देते हुए गुस्साए लोगों से अमन व चैन कायम रखने की अपील की थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

imdadul rashidi imam asansol 650x400 71522412672 640x398

ये सांप्रदायिक हिंसा मार्च महीने में बंगाल में राम नवमी पर्व के अवसर पर हथियारों के साथ जुलूस निकालने के दौरान हुई थी। ये जुलूस कथित तौर पर संघ-परिवार ने निकाला था। जिसकी इजाजत नहीं दी गई थी।

मो. सिबगातुल्लाह ने 58 फीसदी नंबर्स हासिल किए। इमाम ने कहा, ‘मेरा बेटा जिंदा नहीं है। वह डॉक्टर या इंजिनियर बनना चाहता था, लेकिन अपने सपनों की चर्चा नहीं करता था। अब तो उसके साथ ही उसके सपने भी हमेशा के लिए दफन हो गए। लेकिन मैं अब उन स्टूडेंट्स के लिए काम करना चाहूंगा, जो अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाते हैं। इसी से शायद मेरे बेटे को शांति मिल सके।’

Loading...