vidh

vidh

शनिवार को मथुरा के फरह-बेरी मार्ग स्थित क्षतिग्रस्त धर्मपुरा पुलिया से गुजरते समय बाइक के नहर में पलट जाने से बाइक सवार दंपति, दो साल का बेटा और छह साल की भांजी की मौत हो गई. घटना के दो दिन बाद जाकर महिला और उसके बेटे के शव बरामद हुआ. हालांकि युवक और उसकी भांजी का अभी तक कोई सुराग नहीं है.

ऐसे में मृतक के परिवार को सांत्वना देने पहुंचे स्थानीय बीजेपी विधायक पूरनप्रकाश पर गुस्साई भीड़ ने हमला कर दिया.  इस दौरान उनसे और उनके सुरक्षाकर्मी के साथ मारपीट भी की गई. दरअसल भीड़ हादसे के बाद किसी भी अधिकारी के मौके पर नहीं पहुँचने से नाराज थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मथुरा: नहर में गिरने से परिवार की माैत पर गुस्साए लोग, किया हाईवे जाम

मौके पर पहुंचे विधायक ने गुस्साई भीड़ को जब शांत कराने की कोशिश की तो विधायक से भिड़ गए. विधायक पूरन प्रकाश का कहना है कि भीड़ ने उन पर हमला किया. ग्रामीणों का आरोप है कि पिछले करीब दो दशक से क्षेत्र की कई पुलिया जर्जर हैं.

मृतक दंपति की पहचान सलमू (25) और उसकी पत्नी हसीना (19), दो वर्षीय पुत्र फैज और छह साल की भांजी जिहाना के रूप में हुई. सलमू भरतपुर (राजस्थान) के गांव ठेई चिकसाना का रहने वाला है और परिवार के साथ हाथरस से लौट रहा था.

Loading...