महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच भिवंडी शहर में एक मस्जिद को अस्थायी कोविड-19 केंद्र में तब्दील किया गया है। इसके साथ ही मरीजों को मुफ्त ऑक्सीजन बेड भी मुहैया कराए जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बताया जा रहा है कि मस्जिद के प्रशासकों ने मानवीय रुख अपनाते हुए यह कदम उठाया है। मस्जिद के संचालक जमात-ए-इस्लामी हिंद के स्थानीय चैप्टर, मूवमेंट फॉर पीस एंड जस्टिस और शांति नगर ट्रस्ट ने शांति नगर इलाके में मक्का मस्जिद को कोविड-19 के देखभाल केंद्र में तब्दील किया।

जमात-ए-इस्लामी हिंद के एक पदाधिकारी ने बताया है कि इस अस्थायी केंद्र को सभी धर्मों के लोगों का लिए खोला गया है। ऑक्सीजन सिलिंडरों से लैस 5 बिस्तरों के अलावा जमात-ए-इस्लामी हिंद जरूरत पड़ने पर इन्हें मरीजों के घरों में भी मुहैया कराता है।

मस्जिद को कोविड केयर सेंटर बनाने का फैसला करने वाले लोगों का कहना है कि बीते आठ दिनों में करीब 108 मरीजों को पांच ऑक्सीजन बेड से काफी राहत मिली है और यह सेवा पूरी तरह से मुफ्त रखी गई है।

उल्लेखनीय है कि यह पहली बार नहीं है कि किसी मस्जिद के हॉल को कोविड केयर सेंटर में तब्दील किया गया है। इससे पहले पुणे में भी महाराष्ट्र कोस्मोपोलिटिन एंड एजुकेशन सोसाइटी ने अपने कैंपस में स्थित मस्जिद को कोरोना केयर सेंटर बनाने का फैसला लिया था।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन