उत्तर प्रदेश के हाथरस में मंगलवार को नामी कंपनियों के नाम पर गधे की लीद और भूसे से बन रहे मसाले की फेक्ट्री का भंडाफोड़ कर आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बड़ी मात्रा में मसालों के टेस्टिंग के लिए भेज दिया। साथ ही फैक्ट्री से 300 किलो नकली मसाला भी जब्त किया।

पुलिस के अनुसार, यह कारखाना नवीपुर इलाके में स्थित है। यहाँ गधे की लीद और एसिड से धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला आदि खाद्य मसाले बनाए जा रहे थे। फैक्ट्री के मालिक अनूप वार्ष्णेय को गिरफ्तार कर लिया गया और फैक्ट्री सील कर दी गई है। वार्ष्णेय हिंदू युवा वाहिनी के ‘मंडल प्रहरी’ हैं।

संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने बताया कि कारखाना मालिक वार्ष्णेय को सीआरपीसी धारा 151  के तहत न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। मीना ने कहा कि एक बार लैब टेस्ट के नतीजे आने के बाद खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि काफी समय से मिल रही शिकायत पर फ़ूड इंस्पेक्टर के साथ यहां दबिश दी गयी थी। उन्होने कहा, मौके से भारी मात्रा में नकली मसाले बनाने का सामान बरामद किया गया है। लाइसेंस संबंधी दस्तावेज मांगे गए तो मौके पर नहीं दिखा सके। फैक्टरी को तत्काल सील किया गया, नियम अनुसार अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

Loading...
विज्ञापन