250671 rape case 152

इंदौर के महाराजा यशवंतराव अस्पताल में भर्ती मंदसौर में दरिंदगी की शिकार सात साल की मासूम की हालत मे सुधार हो रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक मासूम अब खतरे से बाहर है।

एमवाय एच अधीक्षक ने मेडिकल बुलेटिन जारी किया, बुलेटिन जारी करते वक़्त अधीक्षक ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री और शासन, प्रशासन बच्ची को लेकर चिंतित है, शासन से मिले निर्देशों के बाद एक एक्सपर्ट डॉक्टर का पैनल बनाया गया है, जो लगातार बच्ची की देख रेख कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि स्त्री रोग विशेषज्ञ और पीडियाट्रिक सर्जन ने सन्तोष व्यक्त किया है। उम्मीद है बच्ची जल्द ठीक होगी। उन्होंने कहा कि हालत में सुधार है और बच्ची भी बात कर रही है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल प्रोसेस की गई है, और पूरी तरह से रिकवर होने में सप्ताह का वक्त लगेगा।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी बीच पीड़िता के पिता ने आरोपी इरफान के लिए फांसी की मांग की है। रविवार को उन्होंने कहा कि मुआवजा नहीं, आरोपी के लिए फांसी की मांग करते हैं। इससे पहले मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस ने कहा, मुख्यमंत्री ने पीड़ित मासूम के पिता के अकाउंट में 5 लाख रुपए जमा कराए हैं।

पिता ने न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत के दौरान कहा, ‘मुझे पैसे नहीं अपनी बच्ची के लिए इंसाफ चाहिए। अकाउंट में लाखों ना आए, लेकिन आरोपी को फांसी की सजा मिलनी चाहिए, ताकि आगे से कोई भी शख्स ऐसा करने की सोचे भी तो उसकी रूह कांप जाए।’

मीडिया से बात करते हुए राज्य की महिला और बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस ने कहा, “मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रेप पीड़िता के पिता के खाते में 5 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिया है। हम उम्मीद करते हैं कि जल्द ही पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर लेगी। राज्य सरकार बच्ची के इलाज और उसकी पढ़ाई लिखाई का खर्च उठाएगी।”

Loading...