mand

मंदसौर: मध्य प्रदेश के मंदसौर में सात साल की बच्ची से रेप के आरोपियों इरफान और आसिफ को जेल प्रशासन ने कस्टडी मे रखने से साफ मना कर दिया है। जेल प्रशासन ने मना करने की वजह आरोपियों की हत्या होने की आशंका बताई है।

जेल प्रशासन का कहना है कि रेप के आरोपियों के प्रति पहले से जेल में सज़ा काट रहे कैदियों में भरपूर गुस्सा है, और उन्हें जेल में रखने से उन्हें जान से मार दिए जाने का खतरा पैदा हो जाएगा।

मंदसौर की जिला जेल में करीब 250 कैदी रखे जाने की क्षमता है। लेकिन वहां अभी करीब साढ़े पांच सौ कैदी रखे गए हैं। जेल प्रशासन के मुताबिक, जेल में किसी अलग सेल की व्यवस्था भी नहीं है। ऐसे मे उन्हें यहां सुरक्षित रखना मुमकिन नहीं हो पाएगा।

mand1

जेल प्रशासन ने अदालत और जिला प्रशासन को खत लिखकर अनुरोध किया है कि अगर इन आरोपियों को जेल भेजा जाना जरूरी है तो इन्हें केंद्रीय जेल भेज जाए क्योंकि इन्हें हमारे पास रखने के लिये अलग सेल नहीं है।

एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक आगे की कार्यवाही पूरी होने तक इन दोनों को इंदौर या उज्जैन की जेल में रखा जा सकता है। यह भी सम्भव है कि दोनों को भोपाल या खंडवा भेजा जाए।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?