Sunday, January 23, 2022

कश्मीर से सभी बंगाली मजदूरों की वापसी कराने में जुटी ममता सरकार

- Advertisement -

पश्चिम बंगाल सरकार जम्मू कश्मीर में काम कर रहे 131 लोगों की राज्य में वापसी के लिए मदद कर रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को ईको पार्क में दी गई जानकारी में बताया कि ‘राज्य सरकार की मदद से कश्मीर गए 131 मजदूरों को वापस पश्चिम बंगाल लाया जाएगा। वह मुर्शिदाबाद, दिनाजपुर और माल्दा से हैं।’ उन्होने कहा, यह फैसला कश्मीर के कुलगाम में पांच मजदूरों की आतंकी द्वारा ह*त्या करने के बाद लिया गया है।

सरकार ने मजदूरों को वापस लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है और दो अधिकारी पहले ही कश्मीर के लिए रवाना हो गए हैं। उन्हें ट्रेन के जरिए लाया जाएगा। सरकार पुलिस अधिकारियों को कश्मीर भेजने की योजना बना रही है ताकि बंगाल में अपने घर लौटने के इच्छुक ज्यादातर श्रमिकों के लिए उचित व्यवस्था की जा सके।

Symbolic

एक अधिकारी ने बताया कि एक वरिष्ठ मंत्री को एक वीडियो फुटेज मिली थी जिसमें बंगाली मजदूर सरकार से उन्हें वापस लाने के लिए कदम उठाये जाने का आग्रह करते हुए दिखाई दे रहे थे। इसके बाद पश्चिम बंगाल सरकार ने यह निर्णय लिया। उन्होंने कहा, ‘‘मजदूरों को यह डर है कि यदि वे कश्मीर घाटी में रहना जारी रखेंगे तो उन्हें मार दिया जायेगा।’’

उन्होंने कहा कि ये मजदूर उत्तरी दिनाजपुर, कूचबिहार और मुर्शिदाबाद जिलों के रहने वाले है और पिछले 15 वर्षों से अधिक समय से घाटी में काम कर रहे थे। वहीं कश्मीर के मंडलायुक्त बसीर अहमद खान का कहना है कि उनके पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है। हां, हमने श्रमिकों की सुरक्षा को सुनिश्चित बनाने के लिए उनकी बस्तियों की सुरक्षा कड़ी कर दी है।

गौरतलब है कि गत 29 अक्टूबर को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के बहलनगर गांव के पांच लोगों कमरूद्दीन शेख, मुरसलीम शेख, रफीकुल शेख, रफीक शेख और नईमुद्दीन शेख की घाटी के कुलगाम जिले में गोली मारकर ह*त्या कर दी गई थी।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles