major leetul 760 1527137397 618x347

पिछले साल जम्मू-कश्मीर में एक शख्स को पत्थरबाज बताकर जीप के आगे बांधकर घुमाने वाले भारतीय सेना के मेजर लीतुल गोगोई के होटल से जुड़े मामले में स्थानीय कोर्ट ने पुलिस को जांच की स्टेटस रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया.

श्रीनगर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) ने यह निर्देश दिया. वह एक गैर-सरकारी संगठन की अर्जी पर सुनवाई कर रहे थे. एनजीओ ने अपनी याचिका में पुलिस को मामले की स्टेटस रिपोर्ट पेश करने का निर्देश देने का आग्रह किया था.

बता दें कि मेजर गोगोई एक नाबालिग लड़की के साथ होटल से हिरासत में लिए गए थे. उन पर आरोप है कि वे लड़की के साथ रात बिताना चाहते थे. लेकिन होटल की और से अनुमति नहीं मिलने पर उन्होंने झगडा किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मामले में सेना ने भीकोर्ट ऑफ इन्क्वायरी का आदेश दे दिया है. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि अगर मेजर गोगोई ‘किसी भी अपराध’ में दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी.

इसी बीच पीड़िता की माँ ने गंभीर आरोप लगाया है. लड़की की मां का कहना है कि गोगाई ने कई बार रात में उनके घर में आकर धमकाया था और उनके साथ वह समीर अहमद भी था.

लड़की की मां ने कहा कि गोगोई को देख कर तो मेरी हालत खराब हो जाती थी. समीर मेरी बेटी से बात करता था. कुछ शंका तो थी, लेकिन कभी नहीं सोचा था कि मेरी लड़की उनके साथ एक होटल में मिलेगी.

Loading...