मुंबई महाराष्ट्र विधान परिषद के सदन को बीजेपी मंत्री की धमकी भरी भाषा के विरोध में चार बार स्थगित करना पड़ा। बीजेपी सरकार में सामाजिक न्याय मंत्री दिलीप कांबले ने एनसीपी के एमएलसी अमरसिंह पंडित के बार-बार सवाल पूछने पर उन्हें धमकी दी।

 दिलीप कांबले सामाजिक न्याय मंत्री हैं

डीएनए की खबर के मुताबिक, अमरसिंह पंडित सदन में छात्रवृत्ति से संबंधित कई सवाल पूछ रहे थे जिसके जवाब में दिलीप कांबल ने उन्हें धमकी देते हुए कहा, ‘सदन के बाहर मिल, तुझे दिखाऊंगा।’ इसके विरोध में विपक्ष ने मांग की कि कांबले अपनी भाषा के लिए माफी मांगे।

उच्च सदन के सभापति रामराजे निंबलकर ने कहा कि उन्हें राजनीति में 20 से 25 साल हो गए हैं लेकिन उन्होंने इस तरह की भाषा पहले कभी नहीं सुनी। सभापति ने कहा, ‘आज की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं सदन के भविष्य को लेकर चिंतित हूं, अगर मंत्री ही इस तरह की भाषा का प्रयोग करेंगे तो हम सदन कैसे चला पाएंगे? मंत्री जी को माफी मांगनी चाहिए।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एक दूसरे वरिष्ठ कांग्रेस एमएलसी और पूर्व सभापति शिवाजीराव देशमुख ने कहा कि चुने हुए प्रतिनिधि का यह अधिकार है कि वह सदन में सवाल पूछे।

देशमुख ने कहा, ‘मंत्री को चाहिए कि वह सदन को अपना सही जवाब पेश करें, केवल माफी मांगकर वह ऐसी भाषा का प्रयोग करने से बच नहीं सकते हैं। सदन के नेता को भी इसके लिए माफी मांगनी चाहिए क्योंकि मंत्री सरकार का ही हिस्सा हैं।’ (NBT)

Loading...