ver

ver

महाराष्ट्र के पुणे जिले के पिंपरी इलाके में बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है. पहले तो एक अधेड़ उम्र के शख्स से एक नाबालिग लडकी की शादी करा दी गई. फिर पवित्रता के नाम पर उसका वर्जिनिटी टेस्ट किया गया और कथित तौर पर जब वह इस टेस्ट में सफल नहीं हुई तो उसे बेदर्दी के साथ पीटा गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पुणे के पिम्परी चिंचवाड इलाके एक 15 साल की दुल्हन को खंभे से बांधकर तब तक पिटाई की गई. जब तक की वह बेहोश नहीं हो गई. नाबालिग दुल्हन के अधेड़ पति का कहना है कि यह पहले ही अपना मुंह कहीं काला कर चुकी है. मैं इसे पत्नी के तौर पर स्वीकार नहीं करुंगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अधेड़ का दावा है कि  सुहागरात की चादर पर खून की एक बूंद तक नहीं है. ऐसे में यह पहले ही अपना मुंह किसी के साथ काला कर चुकी है. ध्यान रहे महाराष्ट्र के कंजरभात समुदाय के लोग सदियों पुरानी इस वर्जिनिटी टेस्ट की परंपरा को आज भी फॉलो करते हैं. इसमें ‘फेल’ होने पर कपड़े उतारना, शरीर के अंगों को दागना, खौलते तेल में से सिक्का निकालना जैसे दंड दिए जाते हैं.

अब इस कुप्रथा के खिलाफ दो बहनों ने जंग छेड़ दी है. दो महीने पहले प्रियंका तमाईचेकर और सिद्धांत इंद्रेकर ने युवाओं में जागरुकता फैलाने और इस तरह के वर्जिनिटी टेस्ट पर नजर रखने के लिए एक वॉट्सऐप ग्रुप बनाया है. उन्होंने हाल ही में समुदाय के प्रमुख का एक विडियो रिकॉर्ड कर लिया जो ऐसे ही एक केस की सेटिंग करने के लिए सौदेबाजी कर रहे थे.

शादी से पहले कैसे कोई लड़कियों की वर्जिनिटी पर कोई भी गलत दावा कर सकता है. यानी ये कह सकता है कि फलां लड़की वर्जिन है और इसका कोई सबूत नहीं, सिर्फ एक अंधविश्वास जिसे डॉक्टर भी नकारते हैं.

Loading...