ramd

नई दिल्ली: सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के मदरसों को आतंक से जोड़े जाने को लेकर फैजाबाद के हिंदू ओर मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कड़ी आलोचना की है.

हनुमानगढ़ी के महंत राम दास ने वसीम रिज़वी के बयानों की निंदा करते हुए कहा, वसीम रिजवी को मदरसों पर इस तरह के बयान नहीं देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मदरसे में भी अच्छी तालीम होती है.

महंत राम दास ने कहा, मदरसों से भी अच्छे अधिकारी अच्छे इंजीनियर और नेता निकल चुके हैं. उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने भी वहीं तालीम ली.

इसके अलावा मौलाना समीर हैदर ने कहा कि लगता है वसीम रिजवी ने मदरसे से तालीम नहीं हासिल की है. उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी मदरसा जाकर तालीम का जायजा लें, फिर इस तरह का बयान दें.

ध्यान रहे रिजवी ने मदरसों को बंद करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है. जिसमे कहा कि मदरसों से आतंकवादी बन कर निकल रहे है.

वसीम रिजवी ने पत्र में लिखा कि कितने मदरसों ने डॉक्टर, इंजिनियर और आईएएस अफसर बना रहे हैं. लेकिन कुछ मदरसे ऐसे हैं बच्चों को मुख्यधारा से भ्रष्ट कर के आतंकवादी जरुर बना रहे हैं.