कथित संतों द्वारा कुकर्म कर पवित्र भगवा चौले को कलंकित करने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला सीतापुर का है. जहाँ एक महंत ने एक युवती को 6 माह तक बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, पीड़िता को नौकरी दिलाने के नाम पर उसके ही रिश्तेदारों ने बाबा सियाराम दास की करीबी महिला रिंटू सिंह के हाथों 50 हजार रुपये में बेच दिया था.

पीड़‍िता ने बताया कि सियाराम दास का 250 बीघे का एक बड़ा आश्रम है. उसी आश्रम में बाबा ने एक स्कूल भी खोल रखा है. उसी स्कूल की प्रिंसिपल मिंटू सिंह है.

पीड़िता के अनुसार, रिंटू सिंह स्कूल की प्रिंसिपल होने की आड़ में गंदा काम करती है. वह पीड़िता को बाराबंकी, फैजाबाद, लखनऊ और आगरा के आश्रमों में भेजती थी. जहां उसके साथ बलात्कार किया जाता था.

पीड़िता ने बताया कि वह जैसे-तैसे खुद को महंत सियाराम के चंगुल से मुक्त कराने में कामयाब हो पाई. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर केस दर्ज कर महंत को गिरफ्तार कर लिया है.

सियाराम दास ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि उसने युवती को सोमवार रात लगभग 11 बजे कॉलेज से बाहर निकाल दिया था. इसके बाद युवती कहां गई, मेरे साथ-साथ आश्रम में कोई नहीं जानता.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?