mada

असम सरकार ने राज्य में संचालित सरकारी मदरसों में शुक्रवार और रमजान के महीने में दी जाने वाली छुट्टी पर पाबन्दी लगाने वाली हैं.

सरकारी नियमों का हवाला देते हुए राज्य के शिक्षा मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने कहा कि सरकार द्वारा संचालित मदरसों को शुक्रवार के दिन और रमजान के महीने के दौरान अपने संस्थानों को बंद रखने की इजाजत नहीं दी जाएगी क्योंकि यह सरकारी नियमों के खिलाफ है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया कि मदरसों के लिए एक हफ्ते में दो अवकाश नहीं हो सकते हैं क्योंकि शिक्षकों को सरकार की ओर से शुक्रवार का वेतन भी दिया जाता है. उन्होंने कहा कि शिक्षक अपनेआप गैर मान्यता प्राप्त या गैर निर्धारित अवकाश नहीं ले सकते, यह सरकारी नियमों के खिलाफ है.

हालांकि शुक्रवार के दिन नमाज पढने के लिए मदरसों में एक घंटे का अवकाश जरूर दिया जाएगा. सरमा ने कहा कि राज्य सरकार जल्द ही आदेश जारी करेगी जिसमें मदरसों को नियमानुसार शुक्रवार के दिन भी खोले जाने को कहा जाएगा. उन्होंने कहा कि हम मदरसों को शुक्रवार को बंद करने की इजाजत नहीं देंगे हालांकि जुम्मे की नमाज के लिए एक घंटे के अवकाश का नियम जरूर बना देंगे.

हालांकि शिक्षा मंत्री का यह भी कहना हैं कि मदरसे रविवार के बजाए शुक्रवार का अवकाश चाहते हैं तो इस बाबत वह राज्य सरकार को प्रस्ताव दे सकते हैं जिसे केंद्र सरकार के पास भेज दिया जाएगा.

Loading...