मध्य प्रदेश के गाडरवारा में शर्मनाक मामला सामने आया है, जहाँ सोमवार को करंट लगने से मृत हुई महगवां कलां की 14 वर्षीय बालिका का अस्पताल के डॉक्टरों ने खुलेआम पोस्टमॉर्टम कर डाला.

दरअसल, मंहगवा गांव में आंधी चलने से 14 साल की आरती दुबे के ऊपर बिजली का तार टूट कर गिर गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी. उसके शव को पीएम करने के लिए सोमवार को गाडरवारा पहुंचाया गया था. पीएम कक्ष के अंदर तीन दिन से मृत पड़े मवेशी को नगरपालिका ने नहीं उठाया था, तो डॉक्टर ने खुले मैदान मे किशोरी का पीएम कर दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस घटना का बड़े पैमाने पर विरोध हो रहा है. स्थानीय लोगों ने मप्र शासन के स्वास्थ्य मंत्री का पुतला जलाकर विरोध दर्ज किया गया. वहीँ घटना के दूसरे दिन सीएमएचओ डॉ.आरपी फौजदार गाडरवारा ने अस्पताल पहुंच कर मामले की जांच की. उन्होंने इस संबध में डॉक्टर एवं अस्पताल प्रभारी के बयान दर्ज किए.

फ़ौजदार ने बताया कि दरअसल मुर्दाघर का दरवाज़ा ख़ुला था जिससे एक गाय वहाँ घुस गई और बाद में उसकी वहीं मौत हो गई. उसकी लाश हटाने के लिए अस्पताल के प्रभारी ने नगरपालिका के साथ काग़ज़ी कार्रवाई की जिसमें देर हो गई.

Loading...