tik

मध्य प्रदेश में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला रुक नहीं रहा है. बीते चार दिनों में तीन किसान आत्महत्या कर चुके है. लेकिन राज्य का मुखिया पूजा-पाठ में व्यस्त है.

ताजा मामला टीकमगढ़ जिले से है. जहाँ गुरुवार को किसान धनीराम कुशवाहा (28) ने पेड़ से लटककर आत्महत्या कर ली. बताया जा रहा है कि किसान आर्थिक तंगी और सूखे के चलते खेती न हो पाने की वजह से परेशान था.

किसान के शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्बुलेंस के आभाव में ग्रामीणों को खटिया में रखकर ले जाना पड़ा. शव को खाट पर रखकर ग्रामों लगभग दो किलोमीटर दूर स्वास्थ्य केंद्र तक लेकर गए.

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान केरल में शंकराचार्य यात्रा में व्यस्त

मृतक के पिता मिठ्ठू लाल कुशवाहा का कहना है कि उसके पास एक एकड़ से कम खेती की जमीन है और इस बार सूखे के चलते पानी न होने से कोई फसल नहीं बोई गई, ऐसे में धनीराम दूसरो के यहां मजदूरी कर अपने परिवार का पेट पाल रहा था.

कुछ दिनों से मजदूरी नहीं मिलने के कारण वह तनाव में था. जिसकी वजह उसने ये कदम उठाया. दूसरी और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान केरल में शंकराचार्य यात्रा में व्यस्त है.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano