post

post

हाल ही में देश की जनता ने 12000 हजार करोड़ का PNB घोटाल देखा. देश इस घोटाले के बारे में कुछ समझ पाता उससे पहले ही रोटोमेक का करोड़ों का घोटाला सामने आ गया. इस घोटाले के बारे में अभी पूरी जानकारी भी नहीं मिली की अब करोड़ों का डाकघर घोटाला सामने आया है.

ये घोटाला मध्यप्रदेश के भिंड जिले के एक डाकघर में सामने आया है. करोड़ों रुपये के इस घोटाले के उजागर होने के बाद जांच के आदेश दे दिए गए है. जांच अधिकारियों ने रिकॉर्ड सील कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि ये घोटाला 2016 में नोटबंदी के बाद से चल रहा था.

चंबल संभाग डाकघर अधीक्षक एसके पाण्डेय ने बताया कि गल्लामंडी स्थित डाकघर में करोड़ों रुपये का फर्जीवाड़ा सामने आया है. डाकघर एजेंट बेबी जैन के पति रमेश जैन ने पोस्टमास्टर प्रमोद सिंह भदौरिया के साथ साठगांठ कर खाताधारकों के खाते से करोड़ों रुपये निकाल लिए और खाते बंद कर दिए.

दरअसल, नोटबंदी के बाद जब सभी खातों को आधार से लिंक कराए जाने के आदेश दिए गए. ऐसे में जब डाकघर एजेंट को इस बाद का अंदेशा हुआ कि अब व्यापारी यहां पैसे नहीं जमा कराएंगे जिसके बाद उसने इस फर्जीवाड़े को अंजाम देना शुरू कर दिया.

आरोपी अपने पति और परिवार के साथ फरार है. दंपति ने घोटाले की राशि से अपने दोनों बेटों दीपक जैन और मोनू जैन को सौंपकर बड़ा कारोबार शुरू करा दिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?