poll

उत्तर प्रदेश की पुलिस का हमेशा से अपने विवादित कामों को लेकर सुर्खियों मे रहना कोई नई बात नहीं है। यूपी पुलिस जनता की रक्षा के लिए कम बल्कि गुंडई के लिए ज्यादा जानी जाती है। एक बार फिर से यूपी पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है।

लखनऊ में पुलिसकर्मी ने एक ऑटो चालक की बेरहमी से पिटाई की। जिसे उसके कान के पर्दे तक फट गए। वह लहूलुहान होकर अपनी बेटी के साथ मदद मांगता रहा। लेकिन मदद के बजाय खाकी के गुंडे उसको पीटते रहे। मामला सामने आने के बाद आनन फानन में आला अधि‍कारि‍यों ने आरोपी पुलि‍सकर्मी को निलंबित करते हुए मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

जानकारी के अनुसार, 22 अगस्त की रात जानकीपुरम इलाके के इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे पर एक ऑटो जा रहा था। इस दौरान किसी बात को लेकर रिक्शा चालक की कुछ लोगों से बहस हो गई। जिसके बाद वहां आरक्षी आनंद प्रताप सिंह समेत अन्य पुलिस वाले पहुंचे। आनंद ने उसे लात-घूसों से जमकर पीटा, फिर घसीटते हुए सड़क के डिवाइडर से भिड़ाकर बैठाया दिया। इसके बाद आरक्षी आनंद प्रताप ने उसके सीने पर पैर रखकर गाली-गलौज करते हुए पूछताछ की।

इस दौरान वहा मौजूद कि‍सी ने इस पूरे घटना का वीडि‍यो बनाकर सोशल मीडि‍या पर वायरल कर दि‍या। वीडियो वायरल होने के बाद आला अधि‍कारि‍यों ने आरोपी पुलि‍सकर्मी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें