लखनऊ की ‘अम्बर मस्जिद’ को देश की पहली सौर ऊर्जा पर आधारित मस्जिद का मर्तबा हासिल हुआ हैं. 20वीं सालगिरह मनाने जा रही यहाँ मस्जिद अब सौर ऊर्जा के जरिए अपनी जरूरतों को पूरा करेगी.

उलेमाओं की मौजूदगी में अम्बर मस्जिद में आज सोलर पैनल श्रंखला से बिजली उत्पादन कार्य शुरू किया गया. इस मस्जिद की छत पर सौर पैनल की स्थापना करके यह मस्जिद न सिर्फ अपनी जरूरत के लिये बिजली बनाएगी, बल्कि अतिरिक्त बिजली ग्रिड को भी देगी.

अम्बर मस्जिद की संस्थापक शाइस्ता अम्बर ने कहा कि यह मस्जिद सौर उर्जा से रोशन होने वाली देश की पहली महिला मस्जिद है. पैनल लगाये जाने के उद्देश्यों पर रोशनी डालते हुए उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षोंं के दौरान लखनऊ शहर की हवा की गुणवत्ता बदतर हुई है. ऐसे में हम सभी को हवा की गुणवत्ता सुधारने और अपनी जरूरत के लिये बिजली पैदा करने की दिशा में कदम उठाना होगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शाइस्ता ने कहा कि कोयला आधारित विद्युत संयंत्रों के मुकाबले सौर संसाधनों से बनायी गयी बिजली से वायु प्रदूषण बिल्कुल भी नहीं होता. अगर सभी लखनऊवासी कुदरत के वरदान यानी धूप से बनी र्जा का इस्तेमाल शुरू करेंगे तो शहर की हवा की गुणवत्ता में सुधार शुरू हो जाएगा और बिजली की कटौती में भी कमी आयेगी.

Loading...