महाराष्ट्र के कल्याण से सटे कोन गांव में मंगलवार को एक मस्जिद को टूटने से बचाने के लिए हिन्दू भाइयों ने जो किया उसके बारें में कोई सोच भी नहीं सकता.

दरअसल एमएमआरडीए की टीम मस्जिद को गिराने के लिए गांव पहुंची थी लेकिन इस बात की खबर मिलते से ही गाँव के हिंदु विरोध में खड़े हो गए. उन्होंने प्रशासन को साफ़ तौर पर धमकी दी की अगर उन्होंने मस्जिद तोड़ी तो वे खुद अपना मंदिर तोड़ देंगे. जिसकी सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी.

गांव की इस मस्जिद का निर्माण साल 2003 में हुआ था. जिसको गिराने के लिए एमएमआरडी ने 7 अप्रैल को एक नोटिस मस्जिद कमेटी को भेजा था. दस दिन बाद एमएमआरडी की टीम 500 पुलिस बल, दो जेसीबी और पोकलेन मशीन लेकर मस्जिद गिराने के लिए पहुँच गई.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

लेकिन मस्जिद तोड़ने के विरोध में आए हिंदू समुदाय के लोगों के उग्र तेवर देखकर प्रशासन के हाथ-पैर फुल गए. और उन्हें उल्टे पांव लौटना पढ़ गया. इसी दौरान हिंदुओं ने कहा कि मस्जिद का निर्माण वैध और वो उसे नहीं तोड़ने देगे. इसके बाद ग्रामिणों ने जमीन से जुडे कुछ कागजात भी दिखाए.

Loading...