कोलकाता की टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही इमाम सईद मोहम्मद नूरुर रहमान बरकाती ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को दूसरा तालिबान बताते हुए उस पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग की हैं. उन्होंने आरएसएस को देश के लिए खतरा करार दिया.

शाही इमाम ने कहा कि वे बंगाल में आरएसएस पर प्रतिबंध लगाने के लिए ममता बनर्जी से अनुरोध करेंगे. शाही इमाम का ये बयान रामनवमी के बाद आया हैं. दरअसल संघ परिवार ने बुधवार को रामनवमी के मौके पर भव्य रैलियां निकालीं थी. इस दौरान मुस्लिम बहुल इलाकों से हथियारों और उग्र नारों का प्रयोग किया गया.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही रामनवमी को सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने की  भाजपा की साजिश करार दे चुकी हैं. उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा था कि ध्रुवीकरण की राजनीति को सहन नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा, रामनवमी दंगों को उकसाने का अवसर नहीं है, यह मानवता और प्रेम का त्यौहार है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस बारें में पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रदेशअध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में भाजपा की बढ़ती ताकत से डरती हैं.

Loading...