राजस्थान के अलवर में गौरक्षा के नाम पर की गई पहलू खान की हत्या का सच सामने आ गया हैं. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि पहलू खान की मौत पिटाई से हुई थी. पहलू  खान की छाती और पेट में चोट के निशान हैं. हालाँकि फाइनल रिपोर्ट के लिए पहलू के बिसरा को सहेज कर रख दिया गया है.

याद रहे राजस्थान के अलवर जिले में बहरोड राजमार्ग पर 6 वाहनों में गायें ले जा रहे हरियाणा के रहने वाले करीब 15 लोगों पर कथित गौरक्षकों ने हमला कर दिया था. इस दौरान सभी की बुरी तरह से पिटाई की गई थी. जबकि पीड़ितों ने गाय को खरीदने संबंधी दस्‍तावेज भी पेश किए थे. स्‍थानीय बहरोर पुलिस के अनुसार सभी कथित गौरक्षक विश्‍व हिंदू परिषद और बजरंग दल से जुड़े हुए हैं.

भगवा गुंडों की इस पिटाई में 50 वर्षीय पहलू खान की गंभीर छोटे आई थी. जिसकी अस्पताल में तीन दिन बाद मौत हो गई. हमले में कुछ अन्य लोग भी घायल हुए हैं और उनका अस्पताल में उपचार चल रहा. पहलू खान की मौत के बाद उनके चाचा हुसैन खान ने अपने बयान में कहा है कि पहलू खान अपने बेटे के लिए गायें खरीदने राजस्थान के पशु मेले गए थे और इस खरीद के कागजात भी उनके पास थे, जिन्हें फाड़ दिया गया.

इस पूरे मामले में आज गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी बयान दिया. राजनाथ सिंह का कहना है कि अलवर मामले में न्यायसंगत कार्रवाई होनी चाहिए.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?