उत्तर प्रदेश के समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान को आज सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. दरअसल आजम खान के खिलाफ रामसेवक शुक्ला ने एडमिनिस्ट्रेटिव पॉलिसी के तहत याचिका दायर की थी. जिस पर कोर्ट ने सुनवाई करने से इनकार कर दिया है.

कोर्ट ने कहा, एडमिनिस्ट्रेटिव पॉलिसी में कोर्ट दखल नहीं दे सकता है. बताया जा रहा है कि राम सेवक शुक्ल ने अपनी याचिका सुप्रीम कोर्ट से वापस ले ली है. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में इलाहाबाद हाइकोर्ट के फैसले को सही बताया.

याचिका में सुप्रीम कोर्ट से की मांग की गई थी कि आजम खान को यूपी जल निगम के अध्यक्ष पद से हटा दिया जाए. साथ ही कहा था कि वे अवैध ढंग से इस पद पर कायम हैं. साथ ही यह भी मांग की गयी थी कि उनके कार्यकाल में जितने आदेश पारित किये गये हैं सभी को निरस्त किया जाये.

सुप्रीम कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि वह प्रशासनिक नीति के मामले में दखल नहीं दे सकता. इसके बाद याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट से अपनी याचिका वापस ले ली. गौरतलब है कि याचिकाकर्ता ने इससे पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट में भी आज़म खां के खिलाफ याचिका दायर की थी, लेकिन हाईकोर्ट ने आज़म खां के पक्ष में अपना फैसला दिया था.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें