केरल में 18 साल के संघ के पूर्व कार्यकर्ता की बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या कर देने के मामलें में पुलिस ने आरएसएस के 6 और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया हैं. पुलिस इस मामलें में पहले ही आरएसएस के 10 सदस्यों को न्यायिक हिरासत में भेज चुकी हैं.

घटना अलापूजहा ज़िले की है. जहाँ अनथु नाम के आरएसएस के पूर्व कार्यकर्त्ता की आरएसएस छोड़ने पर हत्या कर दी गई. दरअसल कुछ दिनों से उसका रुझान लेफ्ट पार्टी की तरफ था और वो लेफ्ट पार्टी से जुड़ गया. नथु का ये कदम आरएसएस कार्यकर्ताओं को नागवार गुजरा और उन्होंने उसकी बेरहमी से पिटाई कर मौत के घाट उतार दिया.

अनथु के पिता के अनुसार उनका बेटा पहले आरएसएस की शाखा और कार्यक्रमों में भी जाता था लेकिन बाद में जब उसने लेफ्ट पार्टी से जुड़ने का फैसला किया तो संघ के साथी उससे नाराज़ हो गए. उन्होंने आगे बताया, व्यालर नीलीमांगलम मंदिर में एक त्योहार के दौरान आरोपियों ने अनथु को उसके दोस्त के ज़रिए बुलवाया था. जैसे ही वो आया आरोपियों ने उसकी बेरहमी से पिटाई की जिससे उसकी मौत हो गई है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालांकि अनन्तु अशोकन की हत्या के पीछे पुलिस ने किसी भी राजनीतिक कारण से इनकार किया है. गिरफ्तार 16 लोगों में से सात नाबालिग हैं जो अनन्तु के ही सहपाठी हैं.

Loading...