तिरुवनंतपुरम। केरल सरकार अगले एक साल तक राज्य में किसी भी उत्सव का आयोजन नहीं करेगी। पहले से निर्धारित आयोजनों को भी सरकार ने रद्द कर दिया है। कैंसल किए जानेवाले कार्यक्रमों में इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ केरल और यूथ फेस्टिवल भी शामिल हैं।

राज्य अभी प्राकृतिक आपदा से जूझ रहा है इसको देखते हुए राज्य सरकार ने ये फैसला लिया है। सरकार की ओर से कहा गया है कि जो भी पैसा इन कार्यकर्मों पर खर्च होना था उसे बाढ़ प्रभावितों की मदद करने में लगाया जाएगा। इससे पहले केरल के अनाचल में स्थित श्री अयप्पा मंदिर में इस साल ओणम का त्योहार भी नहीं मनाया गया।

बता दें कि राज्य को इस बाढ़ से भयंकर नुकसान हुआ है। केरल के वित्त मंत्री थॉमस इसाक के मुताबिक, बाढ़ प्रभावित केरल के पुनर्निर्माण के लिए 30,000 करोड़ रुपये की जरूरत है। राज्य सरकार पैसे जुटाने के लिए लॉटरी का भी सहारा ले रही है। इश लॉटरी की टिकट 250 रुपये में बेची जा रही है, जिसके माध्यम से 100 करोड़ रुपये जुटाए जाने की संभावना है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

1535092309 keralafloodtimes3

राज्य में बाढ़ के प्रभाव के बाद अब ‘रैट फीवर’ का खौफ फैल रहा है। इसके अलावा कई अन्य तरह की बीमारी, बुखार की खबरें भी आ रही हैं। इस बीमारी के कारण राज्य में अभी तक 12 मौतें हो गई हैं। रैट फीवर के खौफ को देखते हुए राज्य में तीन हफ्ते के लिए हाई अलर्ट लागू कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, केरल में बाढ़ से 483 लोगों की जान चली गई। आपदा पर चर्चा के लिए बुलाए एक दिवसीय विशेष सत्र में विजयन ने कहा कि 14 लोग अभी भी लापता हैं।

Loading...