केरल के विपक्षी दल यूडीएफ ने यूनिफॉर्म सिविल कोड को लागू करने के प्रस्ताव पर मोदी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि इससे देश के सांप्रदायिक तानेबाने को नुकसान होगा। विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला ने अपने बयान में कहा, ‘‘संहिता देश के धर्मनिरपेक्षता और एकता के लिए खतरा है।’’

चेन्निथला ने आगे कहा, ‘‘कानून आयोग से अपनी रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है। वर्तमान पहल महज राजनीतिक लाभ लेने के लिए है क्योंकि उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के माध्यम से संघ परिवार फायदा उठाना चाहता है।’’

यूडीएफ की सहयोगी इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने समान नागरिक संहिता लागू करने पर आपत्ति जताते हुए कहा कि आईयूएमएल की दिल्ली में 20 जुलाई से होने वाली दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक में समान नागरिक संहिता पर सभी धार्मिक अल्पसंख्यकों की चिंताओं पर चर्चा की जाएगी और संयुक्त कार्रवाई के लिए साझा मत तैयार किया जाएगा।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?