मध्यप्रदेश के कटनी जिले में हवाला कारोबार का खुलासा करने वाले पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी के तबादले से उपजा जनाक्रोश बढ़ता ही जा रहा है. आज कटनी के आसपास ग्रामीण क्षेत्रों की लगभग 500 महिलाओं ने तिवारी के समर्थन में गिरफ्तारी दी.

10 गांव से पहुंची ये महिलाएं सीएम शिवराज सिंह के नाम की चूडिय़ां भी साथ लाई. जिसे उन्होंने लहराते हुए सौंपी. ये महिलाएं एसपी की वापसी और हवाला मामले की निष्पक्ष जांच चाहती हैं. इसी बीच भोपाल में तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने दो फरवरी तक तिवारी का तबादला निरस्त कर उनकी वापसी न होने पर तीन फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान कर दिया हैं.

वहीँ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने  500 करोड़ के हवाला रैकेट मामले की जांच के लिए प्रवर्तन निदेशालय से जांच की सिफारिश करते हुए साफ़ कहा कि पुलिस हवाला मामले की जांच के लिए सक्षम नहीं है. तिवारी के  तबादlले को एक सामान्य प्रकिया के तहत बताया हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘पुलिस के पास विशेषज्ञता नहीं है कि वह हवाला जैसे मामले की संपूर्ण जांच कर सके. बेहतर जांच ईडी कर सकती है. मैं सिफारिश करता हूं कि वो पूरी जांच अपने हाथ में ले, तब तक पुलिस जांच करती रहेगी

गौरतलब रहें कि तिवारी ने कटनी जिले में कई फर्जी कंपनियों के नाम पर बैंकों में खाते हैं और इन खातों के जरिए बड़े पैमाने पर करोड़ों रुपयों का लेन-देन का खुलासा किया था. इस घोटाले के तार  सरावगी बंधुओं से जुड़ रहे हैं. सरावगी बंधुओं के शिवराज कैबिनेट में मंत्री संजय पाठक से रिश्तें बताए जा रहे हैं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें