2 060218125141

श्रीनगर के नौहट्टा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ )के वाहन की टक्कर से गंभीर रूप से घायल हुए 21 साल के युवक ने शनिवार को श्रीनगर में दम तोड़ दिया. जिसके बाद घाटी में एक बार फिर से हालात तनावपूर्ण हो गए.

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस घटना के लिए राज्य सरकार की आलोचना करते हुए ट्वीट कर कहा, ‘संघर्षविराम का मतलब है बंदूकें नहीं, तो इसलिए जीप का इस्तेमाल किया गया.”

उन्होंने कहा, “पहले उन्होंने लोगों को जीप के आगे बांधा और आसपास के गांवों में उसकी परेड निकाली. अब वे प्रदर्शनकारियों के ऊपर सीधा जीप चढ़ा रहे हैं. क्या यह आपकी नई मानाक प्रक्रिया है, महबूबा मुफ्ती”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ पुलिस का कहना है कि यह घटना उस वक्त की है, जब सीआरपीएफ की गाड़ी अपने सीनियर अधिकारी को छोड़कर वापस आ रही थी. तभी प्रदर्शनकारियों ने गाड़ी को निशाने पर ले लिया. हालांकि, अभी तक घटना पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो पाया है.

मामले में एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि श्रीनगर और बड़गाम जिलों में ऐहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं. ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्शन की स्पीड भी कम कर दी गई है, ताकि कोई भड़काऊ पोस्ट या तस्वीरें अपलोड नहीं कर सके.

युवक को कुचलने के आरोप में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने श्रीनगर की सीआरपीएफ यूनिट पर 2 एफआईर भी दर्ज की हैं. पुलिस ने आरपीसी की धारा 18 और 19/2018 u/s 307, 148, 149, 152, 336, 427 और 279 के तहत एफआईआर दर्ज किया है.

Loading...