उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी पर तिरंगा यात्रा के नाम पर मचाए गए बवाल में मारे गए चंदन गुप्त के परिजनों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने के निर्देश दिए है.

इस सबंध में खुद सीएम ऑफिस ने ट्वीट कर कहा कि  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कासगंज की घटना में मृत युवक चंदन गुप्ता के परिजनों को 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने के निर्देश दिए हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालांकि इस हिंसा में अल्पसंख्यक समुदाय के दो लोग भी बुरी तरह घायल हुआ है. जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. उनके लिए अब तक कोई सहायता राशि घोषित नहीं की गई है.

इस हिंसा में 32 साल की उम्र का नौशाद अहमद भी घायल हुआ है. नौशाद अहमद 26 जनवरी के दिन घर से दूकान जा रहा था. बाजार की दुकाने बंद होने के कारण जब वह घर लौट रहा था तो पुलिस ने फायरिंग शुरू कर दी. जिसमें नौशाद भी घायल हुए थे. नौशाद इस वक़्त जेएनएमसी, अलीगढ़ में भर्ती हैं.

वहीँ दुसरे अकरम है. जो लखीमपुर खीरी से अलीगढ़ आ रहे थे. इस दौरान कुछ लोगों ने उनकी दाढ़ी देखकर उन्हें पीटना शुरू कर दिया. इस पिटाई में उनकी एक आँख की रौशनी भी चली गई. अकरम को अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है.