कर्नाटक में विधानसभा चुनावों की तारीखों के ऐलान होने के साथ ही राजनीतिक बिसात का भी बिछना शुरू हो गया है. आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) की और से 40 सीटों पर उम्मीदवार उतारने की तैयारी चल रही है.

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, पार्टी की कर्नाटक इकाई से चुनावी रणनीति तय करने के लिए गुरुवार को मुलाकात करेंगे. AIMIM नेता ने बताया कि हमें जेडी (एस) की तरफ से गठबंधन के मामले में अभी तक कोई संकेत नहीं मिला है. उन्होंने हमसे राज्यसभा चुनाव तक इंतज़ार करने को कहा था. हम 40 उम्मीदवारों को मैदान में उतारने पर विचार कर रहे हैं.

बताया जा रहा है कि जेडी (एस) ने पहले ही बसपा के साथ गठबंधन कर लिया है. हालाँकि ओवैसी की पार्टी का प्रमुख वोट मुस्लिम, दलित और वोक्कलिगा है. ऐसे में जेडी (एस) की अब भी AIMIM से बातचीत चल रही है. ऐसे में यह गठजोड़ सीधे तौर पर कांग्रेस के वोट पर प्रभाव डालेगा.

muslim women voters

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने पिछले हफ्ते अपने पारंपरिक वोट बैंक को मजबूत करने के लिए जेडी (एस) पर धावा बोला था, जिस पर कि देवेगौड़ा की पार्टी की नज़र है.

बता दें कि कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होंगे और मतगणना 15 मई को होगी. AIMIM ने पिछले पांच सालों में तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के बाहर भी अपने प्रभाव क्षेत्र को बढ़ाने की कोशिश की है. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में ये कुछ सीटें जीतने में भी सफल रही है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?