कर्नाटक के शहर उडुपी में अब गौ-रक्षकों द्वारा ने गौहत्या के नाम पर आदिवासी परिवार को पीटने का मामला सामने आया हैं. गोहत्या के आरोप में तीन आदिवासी लड़कों के साथ उनके घर में घुसकर पिटाई की गई हैं.

पीड़ित हरीश ने बताया कि उनके भाई की सगाई की रस्म के दौरान गोरक्षकों ने पहुंचकर उन पर हमला कर दिया. ये सब पुलिस की मोजुदगी में हुआ. उन्होंने मुझे, महेश और श्रीकांत पर बैल काटने का आरोप लगाकर पिटाई की. उन्होंने हमारे समाज की औरतों को गालियां भी दीं.

पुलिस ने उन्हें और उनके दो रिश्तेदारो को गौहत्या के आरोप में भी गिरफ्तार किया. हालंकि ज़मानत पर रिहा कर दिया गया. लेकिन जैसे ही जमानत मिलने के बाद घर पहुंचे रात को तीन चार युवक दोबारा उनके घर पहुंचे और उन पर हमला कर दिया.

डीएसपी प्रवीण नायक का कहना है कि उन्हें सूचना मिली थी कि कुछ आदिवासी गोहत्या कर रहे हैं. हम मौक़े पर पहुंचे और शरथ नाम के एक शिकायतकर्ता की अर्ज़ी पर बैल काटने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने यहां से भी काटे गए जानवर का नमूना उठाया है. डीएसपी नायक का कहना है कि अभी तक हमलावरों को गिरफ़्तार नहीं किया जा सका है, उनकी तलाश में छापेमारी की जा रही है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?