Saturday, October 23, 2021

 

 

 

कर्नाटक में लोकसभा में बड़ी हार के बाद कांग्रेस ने निकाय चुनावों में मिली शानदार सफलता

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली : लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद कांग्रेस के लिए कर्नाटक से खुशखबरी सामने आई है। दरअसल, कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर (जेडी-एस) का परचम लहराया है। निकाय चुनावों में 70 फीसदी सीटों पर इन दोनों ने कब्जा कर लिया है।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने निकाय चुनाव के नतीजे शेयर करते हुए ट्वीट किया, कर्नाटक में 19 और 23 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के लिए मतदान हुआ था। इसके एक महीने के बाद 29 मई को शहरी स्थानीय निकाय का चुनाव हुआ। लोकसभा चुनाव में केंद्रीय चुनाव आयोग के तहत आने वाली ईवीएम का उपयोग किया गया था। शहरी निकाय के चुनाव में राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकार के तहत आने वाली ईवीएम का उपयोग हुआ।

congres

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार 56 शहरी स्थानीय निकायों में कुल 1,221 वार्डों में से कांग्रेस ने 509 वार्डों में जीत हासिल की जबकि भाजपा को 366 स्थानों पर जीत मिली। अकेले चुनाव लड़ने वाली जद-एस को 174 वार्डों में जीत मिली। 160 वार्डों में निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुए जबकि बसपा को तीन, माकपा को दो और अन्य दलों को सात सीटें मिलीं। सात नगर परिषदों के 217 वार्डों, 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों और 19 नगर पंचायतों के 290 वार्डों के परिणाम घोषित किए गए। कांग्रेस ने नगर परिषदों में 90 वार्ड जीते, जबकि भाजपा और जद-एस ने क्रमशः 56 और 38 वार्ड जीते। कांग्रेस ने 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों में से 322 में जीत हासिल की। भाजपा ने 184 और जद-एस ने 102 सीटें जीतीं।

आपको बता दें लोकसभा चुनाव में कर्नाटक में भाजपा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन का सूपड़ा साफ कर दिया था। बीजेपी ने राज्य की कुल 28 लोकसभा सीटों में से 25 पर जीत मिली। कर्नाटक में कांग्रेस का अबतक सबसे खराब प्रदर्शन रहा और उसे एक ही लोकसभा सीट मिली। वह 21 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ी थी। जदएस को भी एक ही सीट मिली, वह सात सीटों पर उतरी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles