sidhh

sidhh

राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि ये चुनाव सांप्रदायिकता बनाम धर्मनिरपेक्षता होगा. साथ ही उन्होंने माना कि राज्य में सत्ता विरोधी लहर है. उन्होने दावा किया कि कांग्रेस राज्य में बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करेगी.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से बुलाई गई बैठक में शामिल होने के लिए शनिवार को दिल्ली पहुंचे सिद्धारमैया ने बैठक के बाद कहा, ‘यह चुनाव मेरे और येदियुरप्पा के बीच नहीं होगा. यह मेरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच मुकाबला नहीं होगा. यह दो विचारधाराओं- सांप्रदायिकता और धर्मनिरपेक्षता के बीच मुकाबला होगा.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राहुल से मुलाकात के बारें में उन्होंने बताया, राहुल गांधी इस बात को जानकर काफी खुश हुए कि राज्य में हमारी सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर जैसा कुछ भी नहीं है. हमने पिछले चुनाव में अपने घोषणा पत्र में जो-जो वायदे किए, वो सभी पूरे किए गए.

कर्नाटक में बीजेपी द्वारा हिंदुत्व का मुद्दा उठाए जाने के सवाल पर सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि भाजपा राज्य में आधारहीन और बेवजह के मुद्दों को उठा रही है. उनके पास कुल मिलाकर एक ही मुद्दा है. अमित शाह और योगी आदित्यनाथ ने भी वही मुद्दा उठाया और नरेंद्र मोदी भी इसी मुद्दे को आगे बढ़ा सकते हैं. इस तरह के मुद्दों से भाजपा को कुछ हासिल होने वाला नहीं है.

इस बैठक में राहुल ने कांग्रेस नेताओं को बयानों में आतंकवादी और हिंदू चरमपंथी शब्दों के इस्तेमाल न करने की नसीहत दी है.’

Loading...