राजस्थान के करौली (Karauli) में एक मंदिर के पुजारी को जमीन विवाद के चलते पेट्रोल डालकर जिंदा जला देने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। सीबी-सीआईडी को एक Video हाथ लगा है। जिसमे पुजारी को एक पेट्रोल पंप से बोतल में पेट्रोल खरीदते हुए देखा जा सकता है। हालांकि सीबी-सीआईडी सीबी ने अभी तक इस प्रकार के किसी भी खुलासे से इनकार किया है।

बता दें कि गत दिनों बूकना गांव में मंदिर की जमीन से जुड़े एक विवाद में मंदिर के पुजारी को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया था। इलाज के दौरान पंडित ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। जिसके बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक पुजारी बाबूलाल वैष्णव ने बताया कि मेरा परिवार 15 बीघा मंदिर की जमीन पर खेती करता था। इस पर आरोपी कैलाश, शंकर और नमो मीणा ने कब्जा कर लिया। हाल ही में वह जमीन पर छप्पर डाल रहे थे। अतिक्रमियों को अतिक्रमण से रोका तो उन्होंने पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी।

बीजेपी के राज्यसभा सांसद किरोड़ीमल मीणा (Kirodi Lal Meena) पुजारी के परिवार को 1 लाख रुपये की मदद दी। किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि सरकार इस मामले में सुस्त है। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी (Rahul and Priyanka Gandhi) को एक बार यहां भी आकर इस गरीब परिवार का हाल देखना चाहिए।

वहीं मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि सपोटरा, करौली में बाबूलाल वैष्णव जी की हत्या अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है,सभ्य समाज में ऐसे कृत्य का कोई स्थान नहीं है। प्रदेश सरकार इस दुखद समय में शोकाकुल परिजनों के साथ है। घटना के प्रमुख आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है एवं कार्रवाई जारी है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano