सोमवार को कैराना और नूरपुर उपचुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) में गड़बड़ी की शिकायतों को लेकर सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है. समाजवादी पार्टी ने बीजेपी पर ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए चुनाव रद्द करने मांग की है.

कैराना लोकसभा से आरएलडी उम्मीदवार तबस्सुम हसन ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे चुनाव को प्रभावित किया जा रहा है. स्थानीय प्रशासन दबाव में काम कर रहा है. दलित, मुस्लिम और जाट बहुल इलाकों में ईवीएम में गड़बड़ियां की जा रही हैं.

तबस्सुम ने आरोप लगाया कि हमारी जीत का अंतर कम करने की साजिश है. बाकी जगहों पर ईवीएम सामान्य चल रहे हैं. इस संबंध में उन्होंने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर शिकायत भी की है. RLD उम्मीदवार ने कहा, ‘मुझे लगातार शिकायतें मिल रही हैं. उन्होंने उम्मीद भी नहीं की होगी कि रमजान में इतने लोग वोट डालने के लिए आएंगे. शुरुआत में उनकी रणनीति यही थी कि रमजान में चुनाव कराए जाएं जिससे लोग वोट डालने न आएं.’

ele

बता दें कि  कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा सीट के उपचुनाव के लिए सोमवार सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हुई. कैराना लोकसभा सीट पर 30.61 फीसदी और नूरपुर विधानसभा सीट पर 33 फीसदी वोटिंग हुई. चुनाव आयोग ने कुछ वोटिंग मशीनों के खराब होने की बात स्वीकारी, लेकिन साथ ही भरोसा दिलाया कि सभी वोटर्स को मतदान का मौका मिलेगा.

सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि नूरपुर में करीब 140 ईवीएम ख़राब होने की सूचना है. यही हाल कैराना में भी है. ईवीएम में खराबी साजिश के तहत की गई है. उन्होंने कहा कि बीजेपी गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में हार का बदला किसी भी सूरत पर लेना चाहती है.

एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ‘शामली, कैराना, गंगोह, नकुड, थानाभवन और नूरपुर के लगभग 175 पोलिंग बूथों से EVM-VVPAT मशीन के खराब होने की शिकायत तुरंत सुनी जाए.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘उप चुनाव में जगह-जगह से ईवीएम मशीन के खराब होने की खबरें आ रही हैं, फिर भी अपने मताधिकार के लिए जरूर जाएं और अपना कर्तव्य निभाएं.’

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें