राजस्थान के अलवर में गौरक्षा के नाम पर की गई मुस्लिम युवक पहलू खान की हत्या को लेकर आज आज अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने इंसाफ मार्च निकाला. इस मार्च के जरिए उन्होंने गौरक्षकों पर प्रतिबंध लगाने की मांग उठाई.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन के नेतृत्व में निकला ये मार्च यूनिवर्सिटी के लाइब्रेरी से शुरु होकर कलेक्ट्रेट पर जाकर समाप्त हुआ. इस दौरान सरकार से पहलू खान को मुआवजा देने और उसके हत्यारों को फ़ासी देने की मांग की गई. कलेक्ट्रेट पर सौंपे ज्ञापन में पीड़ितों पर दर्ज किये गये गौ तस्करी के मामलें को भी वापस लेने की मांग की गई.

छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने कहा, गौरक्षा के नाम गौरक्षक गिरोह हिंसक वारदातों के अंजाम दे रहे हैं. ये पूरा खेल पुलिस और प्रशासन की मिलीभगत से हो रहा है.
उन्होंने आगे कहा, इन कथित गौरक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए साथ ही जो पहलू खान के हत्या में शामिल हैं उन्हें फांसी की सजा दी जानी चाहिए.’ उन्होंने बताया कि एएमयू छात्रों ने अपनी मांग को लेकर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को एक मेमोरेंडम भी भेजा है।
Loading...